Wednesday, August 31, 2011

रासप का ८ वा वर्धापन दिवस समारोह जोश उल्हास के साथ

मुसलाधार बारिश से ` बंद ` मुम्बई मे रासप का ८ वा वर्धापन दिवस समारोह जोश उल्हास से मनाया गया !

मुम्बई (प्रतिनिधि) सोमवार २९ अगस्त २०११ का दिन. शनिवार से बरसते मूसलाधार बारिश से मुम्बई लगबग बंद सी थी. बावजूद इसके राष्ट्रीय समाज पक्ष का ८ वा वर्धापन दिवस समारोह जोश उल्हास से मनाया गया. युवा वर्ग बड़ी तादाद में उपस्थित था. उत्तर भारत से मान्य. चौधरी अजित सिंग, राष्ट्रीय अध्यक्ष राष्ट्रीय लोक दल तथा दक्षीण भारत कर्नाटक से वस्त्रोद्योग मंत्री, मान्य. आर वरतुर प्रकाश मुख्य अतिथी के तौरपर उपस्थित थे. कार्यक्रम के अध्यक्षता रासपा के राष्ट्रीय खजिनदार, मान्य. पुंडलिक मामा काले निभा रहे थे. राष्ट्रीय समाज पक्ष के राष्ट्रीय अध्यक्ष, मान्य. महादेव जानकर मंचपर विराजमान थे. रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष मान्य. रामदास आठवले, महाराष्ट्र यु.डी.एफ. के अध्यक्ष मान्य.तरुण राठी, शिव राज पार्टी के अध्यक्ष ब्रिगेडियर तथा भुतपुर्व सांसद मान्य. सुधीर सावंत, लोकभारती पार्टी के अध्यक्ष आमदार मान्य. कपिल पाटील, महाराष्ट्र लोक जन शक्ति पार्टी के अध्यक्ष मान्य. शमीम हवा, डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के साथी मान्य. खान साहब, लोकजन शक्ति पार्टी के नेता मान्य. मोहनराव अडसूल, रासपा प्रवक्ता मान्य. निखिल भातम्ब्रेकर गुजरात रासपा के अध्यक्ष मान्य. ललितभाई पटेल, कर्नाटक रासपा के अध्यक्ष मान्य.गणेशराम देवासी, तमिलनाडु रासपा के अध्यक्ष मान्य. एम जी मणिशंकर, महाराष्ट्र रासपा के उपाध्यक्ष गोविन्दराम शुरनर तथा दशरथ राउत तथा बहोत सारे नेता, मान्यवर गण, रासपा कार्यकर्ता- प्रतिनिधि महाराष्ट्र, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात, राजस्थान से राष्ट्रीय समाज पक्ष का ८ वा वर्धापन दिवस समारोह मनाने मुंबइ पहुचे थे. मुख्य अतिथी अजित सिंगजी का पगड़ी बांधकर सन्मान किया गया. मान्यवर वक्ताओं ने बधाई देते हुए अपने विचार रखे. मुम्बई मराठी पत्रकार संघ के भवन मे कार्यक्रम था, लेकिन पत्रकार नहीं थे.

मान्य.चौधरी अजित सिंग - भारत का किसान खुश हाल रहा तो भारत की जनता खुश हाल रहेगी. अन्ना के इमानदारी को जनता ने सपोर्ट दिया. इमानदार राजनेता तथा राजनैतिक पार्टियों को जनता का सपोर्ट जरूर मिलेगा. अन्ना के अन्दोलन से ये सबक मिलती है. अन्ना के आंदोलन से सत्ता परिवर्तन का सन्केत मिलता है. उसका फायदा उठाने की जरुरत है.

मान्य. रामदास आठवले - मैंने रिडालोस छोडा. लेकिन महादेव जानकर तथा रासपा को बधाई देने के लिये यहाँ आया हूं. अन्ना के पीछे पत्रकार भागते थे. लेकिन यहां पत्रकार भवन मे कार्यक्रम होकर भी पत्रकार नही हैं. महादेव जानकर पीएम बनाना चाहते है. मेरे सीएम बनाने से वो पीएम बन सकते है.

मान्य. महादेव जानकर - राहुल को पीएम का बेटा बोलते यहाँ मिडिया थकती नही. मान्य. अजित सिंग भी पीएम के पुत्र है. इस पर मिडिया चुप सी क्यों है ? हम सब छोटी मोठी पार्टियां मिलकर कांग्रेस- भाजप को सक्षम पर्याय देंगे.

मान्य. ब्रिगेडियर सुधीर सावंत - भ्रष्टाचार की जड़ कांग्रेस है. भ्रष्टाचार के मुद्दे पर मैने कांग्रेस छोड़ी. मै आपके साथ हूं.

मान्य. आर वरतुर प्रकाश - कांग्रेस तथा भाजपा के उम्मीदवारों ३० हजार वोटों से हराकर मै एमएलए बना. भाजपा ने मेरे मत के जरूरत से मुझे मंत्री बनाया. महादेवजी जानकर कुरुबा समाज के नेता है. उनको सपोर्ट करने के लिए कर्नाटक से यहां आया हू.

No comments:

Post a Comment